Monday, December 17, 2018

News today- we are using a cell phone in areplane

 अब कर सकेंगे हवाई जहाज मे भी मोबाइल का उपयोग

                      


अब हवाई यात्री यात्रा के दौरान अपनी फोन को फ्लाइट मोड पर लगाने की जरूरत नहीं है 3 किलोमीटर से अधिक ऊंचाई पर भी आप अपने मोबाइल से बातचीत के साथ साथ इंटरनेट और वाईफाई का प्रयोग कर सकेंगे लोगों को जल्द ही एरोप्लेन और पानी की जहाज की यात्रा के दौरान भारतीय सीमा में मोबाइल फोन से कॉल करने इंटरनेट चलाने की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी भारतीय सीमा के अंदर इस तरह की सेवा देने के बाबत नियम अधिसूचित कर दिए गए हैं इसके अनुसार विदेशी कंपनी किसी भारती कंपनी के साथ मिलकर मोबाइल फोन सेवा दे सकेंगी शुक्रवार को अधिसूचित उड़ान एवं संबंधित नो वाहन में दूरसंचार संपर्क सुविधा नियमावली 2018 के अंतर्गत भारतीय और विदेशी विमानों और नौवहन सेवा कंपनियां भारतीय सीमा में परिचालन के समय भारत के किसी भी दूरसंचार सेवा प्रदाता के साथ मिलकर इस तरह की सेवा दे सकेंगी नियमावली सरकारी राजपत्र में प्रकाशित किए जाने के बाद लागू हो जाएगी इसके लिए उपग्रह और भू स्थित संपर्क सुविधाओं की माध्यम से दी जा सकेगी इसमें विदेशी उपग्रह सुविधा की मदद लेने के लिए अंतरिक्ष विभाग को अनुमति लेनी होगी

10 साल के लिए जारी किया जाएगा लाइसेंस

इस सेवा के लिए लाइसेंस एक रुपए की वार्षिक शुल्क पर 10 वर्ष के लिए जारी किया जाएगा लाइसेंस धारक से सरकार रेडियो तरंग शुल्क और राजस्व में हिस्सा लेगी उपग्रह के माध्यम से यह सेवा देने के लिए जरूरी होगा कि टेलीग्राफ संकेतों को भारतीय सीमा में स्थापित उपग्रह संचार प्रवेश द्वार केंद्रों के रास्ते ही भेजा जाए एक केंद्र भारत में लंबी दूरी की दूरसंचार सेवाएं देने वाली कंपनियों एनएलडी और इंटरनेट सेवा प्रदाता कंपनियों आईएसपी के साथ परस्पर जुड़े होंगे


EmoticonEmoticon